WhatsApp Image 2022-08-17 at 6.06.27 AM
WhatsApp Image 2022-08-17 at 6.06.28 AM (1)
WhatsApp Image 2022-08-17 at 6.06.28 AM
WhatsApp Image 2022-08-17 at 6.06.29 AM
WhatsApp Image 2022-08-17 at 6.06.30 AM
WhatsApp Image 2022-08-17 at 6.06.31 AM
WhatsApp Image 2022-08-29 at 11.34.36 AM (1)
WhatsApp Image 2022-08-29 at 11.34.36 AM
WhatsApp Image 2022-08-29 at 11.34.35 AM
WhatsApp Image 2022-08-29 at 11.34.35 AM
IMG-20220819-WA0003
IMG-20220830-WA0000
महराजगंज

एडवोकेट कौंसिल ऑफ इंडिया का ऑनलाइन मीटिंग : अधिवक्ता सुरक्षा विधेयक की आवश्यकता पर जोर

दिनांक 19 जून 2019 दोपहर 12 से 2 बजे तक एडवोकेट कौंसिल ऑफ इंडिया की ऑनलाइन मीटिंग सफलता पूर्वक सम्पन्न हुई।
मीटिंग में उत्तर प्रदेश के लगभग सभी जनपदों से एडवोकेट कौंसिल ऑफ इंडिया के प्रतिनिधियों ने प्रतिभाग किया।
हमारे संवाददाता से बातचीत में कौंसिल के प्रदेश सचिव प्रज्ञान शुक्ला (अधिवक्ता उच्च न्यायालय) ने बताया की कार्यक्रम का संचालन प्रदेश सचिव अधिवक्ता अनुभव द्विवेदी ने किया।
श्री शुक्ला ने बताया की कौंसिल के सभी जिलाध्यक्ष व जिला प्रभारी ने अपने अपने क्षेत्र में अधिवक्ताओं की समस्याओं पर बिंदुवार चर्चा किया और आम सहमति से यह प्रस्ताव पारित हुआ की अधिवक्ताओं के ऊपर आए दिन हो रहे जानलेवा हमलों पर रोक लगाने हेतु सख्त कानून समय की मांग है इसके लिए संगठन की कोर कमेटी गठित कर के एक मसौदा विधेयक तैयार किया जाएगा जिसे बार कौंसिल ऑफ इंडिया के माध्यम से विधि मंत्रालय के समक्ष प्रस्तुत किया जायेगा जिससे की एडवोकेट प्रोटेक्शन बिल में इन विषयों को सम्मिलित किया जा सके। कोरोना महामारी के दौरान न्यायालय बंद होने से युवा अधिवक्ताओं को हुई आर्थिक क्षति की पूर्ति हेतु सरकार से फंड की मांग करने तथा कोरोना से जान गवाने वाले अधिवक्ताओं के परिजनों को सरकार की ओर से मुआवजा की घोषणा कराने के लिए भी आवाज उठाया गया।
कार्यकारिणी द्वारा यह निर्देशित किया गया की शीघ्र ही सभी जिलाध्यक्ष गण अपनी जिला इकाई के साथ जिलाधिकारी समक्ष पहुंच कर ज्ञापन के माध्यम से जिलाधिकारी के माध्यम से सरकार को अधिवक्ता समाज की समस्याओं से अवगत कराये।
अपने संबोधन में एडवोकेट कौंसिल ऑफ इंडिया के अध्यक्ष श्री जैकी शुक्ल अधिवक्ता ने कहा की युवा अधिवक्ताओं को वकालत के लिए सक्षम बनाने हेतु शुरुआती चरण में आर्थिक सहयोग की आवश्यकता होती है जिससे की वह आसानी से वकालत कर सके इसके लिए प्रदेश सरकार से सहयोग के अतिरिक्त वरिष्ठ अधिवक्ताओं से भी सहयोग अपेक्षित है।
संगठन के विस्तार की आवश्यकता पर बल देते हुए उन्होंने कहा की सभी जिलाध्यक्ष व जिला प्रभारी गण यथाशीघ्र जिला कार्यकारिणी के गठन की प्रक्रिया पूरी करें और अपने जिले में अधिवक्ताओं के समक्ष आने वाली किसी भी प्रकार की समस्या के निवारण के लिए कौंसिल की ओर से पुरजोर प्रयास करें।
एडवोकेट कौंसिल ऑफ इंडिया पूरी तरह से अधिवक्ताओं के कल्याण और समृद्धि को समर्पित है और जहां भी किसी अधिवक्ता बंधु को इसकी आवश्यकता पड़ेगी कौंसिल हमेशा सहर्ष सहयोग को तत्पर रहेगा।
इस दौरान अधिवक्ता अमित भारद्वाज, अनुभव द्विवेदी, वेद प्रकाश तिवारी, संजीव पांडेय,आशीष शुक्ल, मयंक त्रिवेदी, आशीष वाजपेई, अरविंद पांडेय , शुभम पांडेय, लोकेंद्र नाथ पाण्डेय, राम पांडेय, सैयद अरफात,योगेश मिश्रा सहित कई अधिवक्ताओं ने अपना विचार व्यक्त किया।

संवाददाता
देवेश कुमार मिश्र

अभिषेक त्रिपाठी

Founder & Editor Mobile no. 9451307239 Email: Support@dainikmaharajganj.in

Related Articles

Back to top button