महराजगंज

फरेंदा बाजार में बेचा जा रहा नकली टाटा नमक, छापेमारी में360 पैकेट नकली नमक हुआ बरामद

महराजगंज:
फरेंदा पुलिस में टाटा कंपनी के अधिकारियों के साथ फरेंदा बाजार में छापा मारा। जहां कुल 360 पैकेट असली जैसा दिखने वाला टाटा का नकली नमक बरामद किया गया।
राजेंद्र नगर, दिल्ली के देवेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि वह टाटा नमक की मार्केटिंग और जांच के लिए अधिकृत हैं। महाराजगंज जनपद के फरेंदा बाजार में लगातार नकली टाटा नमक बेचने की सूचना मिल रही थी। इस पर बुधवार को उन्होंने फरेंदा पुलिस के साथ राजू जनरल स्टोर के यहां छापा मारा तो कुल 360 पैकेट नकली नमक बरामद हुआ। उन्होंने बताया की असली टाटा नमक पर ट्रांसपेरेंट कोड अंकित होता है जो दुकानदार राजू जनरल स्टोर के यहां बेचे जा रहे नमक पर अंकित नहीं है। माल जप्त कर के उन्होंने सैंपल जांच को भेज दिए हैं। साथ ही आरोपित के खिलाफ फरेंदा थाने में कॉपीराइट एक्ट की धारा 63 के तहत रिपोर्ट दर्ज करने के लिए तहरीर दे दिया है।
*नकली नमक में नहीं आयोडीन*
देवेंद्र प्रताप ने बताया कि नकली टाटा नमक में आयोडीन नहीं होता है लिहाजा यह स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। उन्होंने बताया कि असली टाटा नमक की थैली को जब भी पलटा जाता है नमक रेत की तरह फिसलने लगता है जबकि नकली नमक में ऐसा नहीं होता है।
*हर बोरी पर 200 रुपए का अतिरिक्त मुनाफा*
टाटा कंपनी के अधिकारी देवेंद्र व पीयूष के मुताबिक टाटा कंपनी के नमक की बोरी में विक्रेता को अधिकतम 60 रुपए मुनाफा मिलता है जबकि नकली टाटा नमक को असली बताकर बेचने में प्रति बोरी 200 रुपए का अतिरिक्त मुनाफा होता है।

*दैनिक महराजगंज न्यूज*
*विमलेश कुमार नायक*

Share this:

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!