गोरखपुर

21 राजकीय विद्यालयों में शासन से कॉरपोरेट स्कूलों जैसी सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी- डीएम

अंशुमान द्विवेदी

गोरखपुर। जिलाधिकारी सभागार में जिलाधिकारी विजय किरन आनंद राजकीय विद्यालयों दिशा व दशा सुधारने के लिए जनपद के एक किस राज्य की विद्यालयों के प्रधानाचार्य के साथ बैठक कर प्रोजेक्ट अलंकार के तहत प्राइवेट विद्यालयों से बेहतर सुविधा छात्र छात्राओं को देने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया कि स्थलीय निरीक्षण कर एस्टीमेट बनाकर डीआईओएस के मार्फत हमारे पास उपलब्ध कराएं जिससे राजकीय विद्यालय के छात्र छात्राओं को बेहतर शिक्षा दीक्षा प्राइवेट विद्यालयों से अच्छी शिक्षा दीक्षा दी जा सके और छात्र छात्राओं के अभिभावक प्राइवेट विद्यालयों में अपने पाल्यो को न भेजकर राजकीय विद्यालयों में भेजने के लिए मजबूर हो। प्रदेश सरकार प्रॉजेक्ट अलंकार के तहत राजकीय हाईस्कूल और इंटरमीडिएट सरकारी स्कूलों की सूरत अब बदलने वाली है। सरकारी स्कूलों में शासन से कॉरपोरेट स्कूलों जैसी सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी।
राजकीय हाईस्कूल और इंटरमीडिएट सरकारी स्कूलों की सूरत अब बदलने वाली है। सरकारी स्कूलों में भी शासन से कॉरपोरेट स्कूलों जैसी सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। इसके लिए सरकार ने यूपी के सभी राजकीय विद्यालयों से एस्टीमेट मांगा है और जल्द शासन से बजट मिलने की उम्मीद जताई जा रही है।शिक्षा में सुधार को लेकर शासन के द्वारा महत्वपूर्ण कदम उठाया जा रहा है। जिससे सरकारी स्कूलों की दशा तो सुधरेगी इसके अलावा शिक्षा के स्तर में गुणबत्ता आएंगी। सरकारी स्कूलों में प्राइवेट स्कूलों जैसी सुविधाएं न होने से बच्चों के पेरेंट्स का मोह भंग होने लगा है। लेकिन शासन के द्वारा इस प्रोजेक्ट से अब सरकारी स्कूलों में प्राइवेट स्कूलों जैसी सुविधा मिलनी शुरू हो जायेगी। ‘प्रोजेक्ट अलंकार’ के तहत चिह्नित विद्यालयों के जर्जर भवनों को हालत को सुधार कर उन्हें आधुनिक सुविधाओं से लैस किया जायेगा।
शासन की तरफ से 12 बिंदुओं को शामिल किया गया है। जिसमें राजकीय विद्यालयों में प्रमुख रूप से स्वच्छ पेजयल, छात्र छात्राओं के लिए अलग-अलग क्लासरूम, लैबोरेट्रीज, खेल के मैदान, बैडमिंटन, वॉलीबॉल कोर्ट, ओपन जिम, बाउंड्री वॉल, गेट का निर्माण, मल्टीपरपज हॉल साइकिल स्टैंड, स्मार्ट क्लास लाइब्रेरी, सोलर प्लांट की स्थापना, रेन वाटर हार्वेस्टिंग आदि सुविधाओं से लैस किया जाना है।
डीएम विजय किरन आनंद ने बैठक में कहा कि प्रदेश सरकार ने राजकीय स्कूलों की सेहत दुरुस्त करने के लिए ‘प्रोजेक्ट अलंकार’ के तहत उन्हें रोनेवोट करने की योजना बनाई है इसके लिए शासन ने जिले के सभी 21 राजकीय विद्यालयों में सुविधाओं की कमी को लेकर डेटा मांगा है। इसके लिए जिले के सभी राजकीय हाईस्कूल व इंटर के विद्यालयों से डेटा मांग किया है। डेटा बनाकर शासन को शांति हेतु भेजा जाएगा जिससे राज की विद्यालयों की दिशा व दशा सुधार कर प्राइवेट विद्यालयों से बेहतर कारपोरेट विद्यालय बनाया जाएगा। बैठक में ज्ञानेंद्र सिंह भदोरिया सहित जनपद के समस्त 21 राजकीय विद्यालयों के प्रधानाचार्य मौजूद रहे।

Share this:

अंशुमान द्विवेदी

जिला प्रभारी (महराजगंज) हेल्पलाइन:- 9935996809

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!