लखनऊ

केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह लखनऊ में ‘मेरा परिवार-भाजपा परिवार’ सदस्यता अभियान का शुभारंभ किया ……

अमित शाह ने कहा कि
आज मैं उत्तर प्रदेश की ऐतिहासिक भूमि पर भाजपा की सदस्यता अभियान की शुरुआत कराने आया हूं।
इसके साथ ही दीपावली पर यहां के हर घर पर ‘मेरा परिवार-भाजपा परिवार’ को स्वीकृति मिले, इस अभियान की भी शुरुआत हो रही है।
भाजपा ने उत्तर प्रदेश को अपनी पहचान वापस दिलाने का काम किया है। भाजपा ने उत्तर प्रदेश को देश का सबसे प्रमुख राज्य बनाने की दिशा में काम किया है।
भाजपा ने सिद्ध किया है कि सरकारें परिवार के लिए नहीं, बल्कि सूबे के गरीब से गरीब व्यक्ति के लिए होती है।
अखिलेश जी ये हिसाब उत्तर प्रदेश की जनता को दीजिए कि पिछले 5 साल में आप विदेश कितने दिन रहे?
बीते दिनों कोरोना आया, यूपी में बाढ़ आई, आप कहां थे?
इन्होंने शासन स्वयं के लिए, परिवार के लिए और अपनी जाति के लिए किया है, इसके अलावा किसी के लिए शासन नहीं किया।
बाकी सभी राजनीतिक पार्टियों के लिए चुनाव सत्ता हथियाने का जरिया है।
भाजपा के कार्यकर्ता के लिए चुनाव पार्टी की विचारधारा को घर-घर पहुंचाने का चुनाव है।
जनता की समस्या को जानने का चुनाव है।
सरकार के किए हुए कार्यों को लोगों तक पहुंचाने का चुनाव है।
सदस्यता अभियान 29 अक्टूबर से 31 दिसंबर तक चलेगा।
यूपी में 53% आबादी युवा है, युवाओं, गरीबों, महिलाओं, दलितों, पिछड़ों को पार्टी के साथ जोड़ने का कार्य भाजपा करेगी।
यूपी में कई वर्षों तक सपा-बसपा का खेल चलता रहा, उसने उत्तर प्रदेश को बर्बाद कर दिया था।
उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था की बदहाल स्थिति देखकर खून खौलता था।
आज उत्तर प्रदेश में कोई पलायन नहीं होता, पलायन कराने वालों का खुद पलायन हो गया है।
एक बहुत बड़ा परिवर्तन उत्तर प्रदेश में और देश में मोदी जी और योगी सरकार ने करने का कार्य किया है।
आपने दोबारा दो तिहाई बहुमत दिया, मोदी जी ने राम जन्मभूमि का शिलान्यास कर दिया और देखते-देखते आज आसमान को छूने वाला भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर बन रहा है।

अखिलेश जी को मैं याद दिलाता हूं कि आपकी पार्टी की सरकार में निर्दोष रामभक्तों को गोलियों से भून दिया गया था।
आज उसी जगह पर रामलला शान के साथ गगनचुंभी मंदिर में विराजमान होने वाले हैं।
कुछ राजनीतिक पार्टियां ऐसी होती हैं जो हमेशा के लिए समाज सेवा का कार्य करती हैं।
कुछ राजनीतिक पार्टियां ऐसी होती हैं जैसे बारिश में मेंढक बाहर आ जाता है, ऐसे चुनावी मेंढक भी चुनाव के समय ही बाहर आते हैं।

2017 के पूर्व उत्तर प्रदेश देश की 7वीं अर्थव्यवस्था थी, आज यूपी देश की दूसरे नंबर की अर्थव्यवस्था बन गया है।
अखिलेश बाबू आप यूपी का बजट 10 लाख करोड़ रुपये का छोड़कर गए थे। योगी जी ने अंतरिम बजट 21.31 लाख करोड़ रुपये का रखा है।

मुकुट किशोर शुक्ला
ब्यूरो चीफ
दैनिक महाराज गंज न्यूज़
लखनऊ

Share this:

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!