महराजगंज

कलेक्ट्रेट परिसर में विभिन्न स्टॉलों का निरीक्षण करती मा. राज्यपाल।

मा. राज्यपाल आनंदीबेन पटेल द्वारा जिला कारागार के निरीक्षण के उपरांत कलेक्ट्रेट परिसर में विभिन्न विभागों द्वारा लगाए गए स्टॉलों का निरीक्षण किया। इन स्टॉलों पर एन.आर.एल.एम., कृषि व उद्योग विभाग के तत्वाधान में जनपद के स्वयं सहायता समूह की महिलाओं, किसान उत्पादक संगठनों व “एक जिला एक उत्पाद” के तहत फर्नीचर करीगरों द्वारा अपने उत्पादों को प्रदर्शित किया गया। इस दौरान एन.आर.एल.एम. के अंतर्गत स्वयं सहायता समूह द्वारा “महाराज” ब्रांड नाम से निर्मित विभिन्न उत्पादों को देखकर प्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि “महाराज” ब्रांड प्रदेश का अपनी तरह का पहला ब्रांड है और इस तरह की ब्रांडिंग के प्रशंसनीय हैं। इस तरह के प्रयास से अन्य जनपदों को भी प्रेरणा मिलेगी। उन्होंने महाराज ब्रांड के कई उत्पादों को खरीदा भी। राज्यपाल महोदया द्वारा एफ.पी.ओ. समूह द्वारा विभिन्न जैविक कृषि उत्पादों की भी प्रशंसा की व ओ.डी.ओ.पी. कार्यक्रम के अंतर्गत फर्नीचर के कार्य को भी सराहा।
इसके बाद राज्यपाल महोदया द्वारा कलेक्ट्रेट सभागार में गोद लिए गए क्षय रोगी बच्चों व स्वयं सेवी संस्थाओं, आयुष्मान योजना के लाभार्थियों व स्वयं सहायता समूह के साथ संवाद किया। इस दौरान राज्यपाल महोदया को सूचित किया गया कि जनपद में कुल 277 क्षयरोगग्रस्त बच्चों को गोद लिया गया है। शेष बचे बच्चों के संदर्भ में मा. राज्यपाल ने निर्देशित किया कि इस अभियान में अधिकारियों, कॉलेजों के प्रधानाचार्यों, ग्राम-प्रधानों व प्रमुख क्लबों समेत अन्य लोगों को भी जोड़ा जाए। उन्होंने कहा कि गांवों में हमारा गाँव, कुपोषण मुक्त, टी.बी. मुक्त गाँव अभियान चलाने की जरूरत है और इस अभियान से प्रत्येक व्यक्ति को जोड़ने का प्रयास करना चाहिए, ताकि जनपद को कुपोषण व टी.बी. रोग से मुक्त किया जा सके। टी.बी.ग्रस्त बच्चों को उपहार भी दिया।
राज्यपाल महोदया ने आयुष्मान योजना व इसके अंतर्गत बनने वाले आयुष्मान कार्ड की जानकारी भी ली। राज्यपाल महोदया को बताया गया कि जनपद में आयुष्मान योजना से आच्छादित कुल 148450 परिवार हैं, जिसके तहत लगभग 742250 लोगों को योजना का लाभ प्राप्त होता है। उन्हें यह भी सूचित किया गया कि पिछले माह 2898 गोल्डेन कार्ड बनाये गए और इस प्रकार अबतक कुल 187157 गोल्डेन कार्ड बनाये जा चुके हैं। राज्यपाल महोदया ने निर्देशित किया कि इस प्रकार की महत्वपूर्ण योजनाओं में अपात्र लोगों को चिन्हित कर बाहर करें, ताकि वास्तव में जरूरतमंद लोगों को लाभान्वित किया जा सके। इस दौरान उन्होंने आयुष्मान योजना के कुछ लाभर्थियों से संवाद भी किया और प्रतीकात्मक तौर पर 5 लोगों को गोल्डेन कार्ड का वितरण भी किया।
स्वयं सहायता समूह की महिलाओं से संवाद करते हुए राज्यपाल महोदया ने उनके प्रदर्शन की जानकारी ली। संघर्ष महिला स्वयं सहायता समूह की नामिता गुरुंग ने बताया कि उनके समूह के बचत खाते में 4 लाख हैं और सी.सी.एल. में 10 लाख पास हुआ है। इसी प्रकार शक्ति महिला समूह व जनजाति महिला समूह की महिलाओं ने भी राज्यपाल से अपने अनुभव साझा किए।
राज्यपाल महोदया ने सबको संबोधित करते हुए कहा कि पिछले 5-7 सालों में हो रहे कार्यों का लाभ महिला समूहों को मिल रहा है। महिलाओं के सशक्त होने का लाभ परिवार, समाज व देश सबको होता है। स्वयं सहायता समूहों के गठन, उनके ट्रेंनिंग और उन्हें पैसा मुहैय्या कराने से कमाने वालों की संख्या बढ़ी है। इससे जो सबसे बड़ा लाभ है कि व्यवसाय के माध्यम से धनार्जन के प्रयास में महिलाओं को शिक्षा के महत्व का पता चल रहा है। इसलिये ऐसी महिलाएं अपने बच्चों की शिक्षा पर विशेष ध्यान दे रही हैं। स्वरोजगार से महिला की परिवार व समाज दोनों में इज्जत बढ़ी है। हमारे प्रधानमंत्री ने कहा कि “वोकल फ़ॉर लोकल”। इससे न सिर्फ अपने लोगों को मदद मिलती और देश को लाभ होता है, बल्कि स्वयं को भी गुणवत्तायुक्त व शुद्ध चीजें मिलती हैं। स्वयं सहायता समूह परस्पर सहयोग की भावना पर कार्य करते हैं और हम सबका भी भाव होना चाहिए कि सब लोग आगे बढ़े। हमारे प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री इस भावना से कार्य कर रहे हैं। उन्होंने की 2025 तक भारत को टी.बी. मुक्त बनाना है। इसके लिए सबको मिलकर प्रयास करना होगा। अभी जी-20 मे भारत का दबदबा रहा क्योंकि भारत ने पहले करके दिखाया तब कुछ कहा। इसी प्रकार हमें भी मिलकर कार्य करना है और लक्ष्य को हासिल करना है।
मा. राज्यपाल द्वारा स्वयं सहायता समूह की सदस्यों को डेमो चेक का वितरण किया गया और बैंक सखियों रागिनी, वंसानऔर सोनी को हैंडहॉल डिवाइस का वितरण किया गया। अंत मे जिलाधिकारी श्री सत्येन्द्र कुमार और पुलिस अधीक्षक श्री प्रदीप गुप्ता ने मा. राज्यपाल को गणेश प्रतिमा को स्मृति चिन्ह के रूप में भेंट किया।

Share this:

आई. एस. पाठक (प्रखर)

Chief Sub Editor Dainik Maharajganj News Mob: 9935231212

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!