महराजगंज

कलेक्ट्रेट सभागार में अपर मुख्य सचिव श्री मनोज कुमार सिंह।

अपर मुख्य सचिव ग्राम्य विकास, पंचायतीराज एवं राजस्व विभाग श्री मनोज कुमार सिंह द्वारा कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी श्री सत्येन्द्र कुमार, मुख्य विकास अधिकारी गौरव सिंह सोगरवाल ,ग्राम्य विकास से सम्बन्धित अधिकारियों और ग्राम प्रधानों के साथ 14 वित्त आयोग के अन्तर्गत किये जा रहे ग्राम्य विकास से जुड़े कार्यों की समीक्षा बैठक की गयी।
अपर मुख्य सचिव श्री सिंह द्वारा एन.आर.एल.एम. के द्वारा राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अन्तर्गत स्वयं सहायता समूह द्वारा निर्मित महाराज ब्रांड के उत्पादो का उद्घाटन भी किया गया। उत्पादित सामनो में अगर बत्ती, फिनाइल, मोमबत्ती, टॉयलेट क्लीनर व वर्मी कम्पोस्ट खाद आदि शामिल हैं। मा. सचिव द्वारा समीक्षा बैठक में 14 वें वित्त आयोग द्वारा आवंटित परफार्मेस ग्राण्ट के माध्यम से 14 ग्राम पंचायतो में किये जाने वाले कार्यों की समीक्षा की गयी। समीक्षा के दौरान उन्होंने प्रधानों व ग्राम सचिवों से बात की और कहा कि प्रधान होने वाले कार्यो का स्थलीय सत्यापन करते रहेगें, जिससे कि गुणवत्तापूर्ण कार्यों को सुनिश्चित किया जा सके। कार्यो की गुणवत्ता को बनाये रखने हेतु ब्राडेण्ड सामानों का उपयोग हो जिससे कार्य की गुणवत्ता बनी रहे किये गए कार्यों को एक माडल के रूप में प्रस्तुत किया जा सके। उन्होंने कहा कि बस इस बात का ध्यान रखें कि गुणवत्ता से किसी प्रकार समझौता नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा ग्राम पंचायतो में बिजली के खम्भो पर एल.ई.डी. बल्ब लगाये जाएं, जिससे गाँवों में रोशनी तो हो ही वे रातों को भी सुंदर दिखाई दें।


इससे पूर्व बैठक में मुख्य विकास अधिकारी ने पॉवर पॉइंट प्रेजेंटेशन द्वारा जिला पंचायतीराज विभाग द्वारा किये गये विभिन्न कार्यों जैसे सामुदायिक शौचालय, व्यक्तिगत शौचालय, पंचायत भवन, मनरेगा से ग्राम पंचायतो में पार्क तथा कायाकल्प कार्यक्रम के माध्यम से प्राथमिक विद्यालयों में किये जा रहे कार्यो से अवगत कराया। उन्होंने सचिव महोदय को सूचित किया कि परफॉर्मेंस ग्रांट योजना में 14 ग्राम पंचायत आच्छादित हैं। इन ग्राम पंचायतों में 827 परियोजनाएं चयनित की गई हैं, जिनमें 501 स्वीकृत हैं और 77 के वर्क टेंडर हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि अवशेष परियोजनाओं को अन्य योजनाओं के अंतर्गत किये जाने की योजना है। बैठक में अपर मुख्य सचिव को स्वयं सहायता समूहो के द्वारा किये जा रहे कार्यो व जिला पंचायत द्वारा हाटमिक्स प्लान्ट से पंचायतो में सडक निर्माण कार्यो की वीडियो के माध्यम से झलकियाँ दिखाई गयी,जसकी सचिव महोदय द्वारा प्रशंसा भी की गयी। उन्होंने निर्देश दिया कि इसी प्रकार विकास कार्यो करते रहे तथा महिला समूहो को आगे बढायें जिससे आने वाले समय में वे अच्छी प्रगति कर सके। उन्होंने बताया कि मा. मुख्यमंत्री जी द्वारा कुटुंब श्री योजना हो या पीडीएस दुकानों के संचालन का दायित्व स्वयं सहायता समूहों को देने का निर्णय हो, सभी के पीछे महिला सशक्तिकरण का ही लक्ष्य है।
बैठक में ए0के0गुप्ता अपर निदेशक क्षेत्रीय नगर एवं पर्यावरण अध्ययन केन्द्र लखनऊ ,संदीप माझी कन्सल्टेंट, एस0 एन0 सिंह उप निदेशक पंचायतीराज व अरविंद राय उप निदेशक जिला पंचायत, अपर जिलाधिकारी वित्त एव राजस्व पंकज कुमार वर्मा, पी0डी0 राजकरन पाल, डी0डी0ओ0 जगदीश त्रिपाठी, अपर सी0एम0 डॉ0 राजेन्द्र प्रसाद, डी0पी0आर0 के0बी0वर्मा उपस्थित रहे।

Share this:

आई. एस. पाठक (प्रखर)

Chief Sub Editor Dainik Maharajganj News Mob: 9935231212

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!