दैनिक महाराजगंज न्यूज़ पोर्टल आप सभी देशवाशियो से निवेदन करता है , कोरोना महामारी से बचने के लिए सोशल डिस्टेंस बनाये रखे और लॉकडाउन का पालन करें !
previous arrow
next arrow
Slider

नगर पंचायत आनंदनगर में 1988 में आवंटित दुकानों के प्रकरण में आया नया मोड़

महाराजगंज जनपद के आनंदनगर नगर पंचायत में 1988 में 42 दूकाने आवंटित की गई थी दुकानों को नए सिरे से आवंटित करने का मामला तूल पकड़ लिया है आपको बता दें कुछ दिन पहले नगर पंचायत ने एक नोटिस जारी किया था जिसमें नगर पंचायत की तरफ से 25 अगस्त तक 42 दुकानदारों को सूचित किया गया था कि शासन के दिशा निर्देशों के अनुसार दुकानों को नए सिरे से आवंटित किया जाएगा जिसके लिए 1 लाख रजिस्ट्रेशन शुल्क के साथ 14 लाख रूपए अगले 3 माह में जमा करना होगा एवं 6 हजार मासिक किराया होगा | वही इस पूरे मामले में नगर पंचायत के पूर्व चेयरमैन विनोद गुप्ता ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि नगर पंचायत अध्यक्ष के ऊपर सरकारी धन के बंदरबांट का आरोप लगाते हुए कहा कि अगर नगर पंचायत का राजस्व बढ़ाना है तो नगर पंचायत को कॉन्प्लेक्स बना देना चाहिए ना कि पूर्व में आवंटित किए हुए दुकानों को निरस्त करना चाहिए वही विनोद गुप्ता ने यह भी कहा कि अगर व्यापारी हितों को ध्यान में नहीं रखा जाएगा तो यह लड़ाई और आगे तक भी लड़ी जाएगी, अगर हमारी बातों को नजरअंदाज किया जाता है तो इसके लिए जन आंदोलन भी किया जाएगा, जिसकी पूरी जिम्मेदारी तत्कालीन चेयरमैन की होगी,
पूर्व चेयरमैन ने 1988 में आवंटित दुकानों के नियम एवं शर्तों में भी बदलाव का आरोप लगाया है तत्कालीन चेयरमैन पर,इस पूरे प्रकरण में 42 दुकानों के मालिकों का कहना है कि अगर नगर पंचायत की तरफ से बीच का कोई रास्ता तय किया जाता है तो वह उसके लिए पूर्णतया तैयार हैं नहीं तो अपनी लड़ाई आगे तक लड़ेंगे

Share this:

Abhishek verma

By Abhishek verma

Abhishek kumar Verma Tahshil Riporter (Farenda) 8052856900

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Warning: Copyright Protected.

Open chat
Hello
how can i help you.