दैनिक महाराजगंज न्यूज़ पोर्टल आप सभी देशवाशियो से निवेदन करता है , कोरोना महामारी से बचने के लिए सोशल डिस्टेंस बनाये रखे और लॉकडाउन का पालन करें !
previous arrow
next arrow
Slider

18 घंटे बाद मिला था पिंकी का शव

घटनास्थल से करीब 17 किमी दूर जलालगढ़ बेतौहा घाट के पास मिला कौशल का क्षतिविक्षत शव

महराजगंज जनपद पुरंदरपुर थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत ख़ालिकगढ़ टोला बसाहवा के पास से बहने वाली रोहिन नदी में दिनांक 21 अगस्त 2020 दिन शुक्रवार को दोपहर में चार बच्चें भैस चराने गए थे। कि करीब 3 बजे अचानक पैर फिसलने से नदी में जा गिरे स्थानीय लोगों की मदद से महिमा पुत्री राममिलन उम्र 11 वर्ष, अमरजीत पुत्र रामफल 10 वर्ष, की जान बचा ली गई। महराजगंज जनपद से एनडीआरएफ की टीम ने दो बच्चों का पता देर रात तक लगाया मगर पिंकी व कौशल का पता नहीं चला और एनडीआरएफ की टीम बैरंग वापस महराजगंज लौट गई। एनडीआरएफ की टीम के खोज से ग्रामीण नाख़ुश रहें। रात में पी०ए०सी० 26 बटालियन बी दल के हेड कांस्टेबल प्रमोटेड परमहंस तिवारी, फूलचंद, जयप्रकाश सिंह, कांस्टेबल राकेश सिंह, रमेश गुप्ता, रामविनय यादव, रमानन्द राय, विकास राय, रामप्रवेश यादव चालक, समेत नौ जवान ख़ालिकगढ़ टोला बसाहवा पहुँचे। घटना के दूसरे दिन शनिवार की सुबह से ही पी०ए०सी 26 बटालियन बी दल की टीम पिंकी व कौशल को ढूढ़ेने में लग गई। बड़े खोजबीन के बाद पिंकी का शव सुबह करीब 9 बजे रोहिन नदी घटनास्थल से करीब पांच सौ मीटर दक्षिण तरफ मिला था। वही घटना के तीसरे दिन रविवार को घटनास्थल से करीब 17 किलोमीटर दूर जलालगढ़ बेतौहा घाट पर लगभग 10 बजे क्षतिविक्षत अवस्था में मिला। शव को जल जीवों द्वारा क्षतिविक्षत कर दिया गया था। पी०ए०सी० 26 बटालियन बी दल की टीम के अथक प्रयासों से कौशल का शव मिला। विधायक प्रतिनिधि नुरुलहुदा, डा० अब्दुल्ला मंजरी, राकेश उपाध्याय, ने प्रोत्साहित राशि देकर पी०ए०सी० 26 बटालियन बी दल के कार्य को सराहना किया। मौके पर पुरंदरपुर उपनिरीक्षक रोहित कुमार सिंह, कांस्टेबल श्याम यादव, ने शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिए महराजगंज भेज दिया।
इस संबंध में पुरंदरपुर एसओ शाह मुहम्मद का कहना है कि पी०ए०सी 26 बटालियन बी दल की टीम की जवानों के गोताखोर के जवानों द्वारा बड़ी तलाशने के बाद कौशल का शव मिला। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए महराजगंज जनपद भेज दिया गया।

Share this:

Abhishek verma

By Abhishek verma

Abhishek kumar Verma Tahshil Riporter (Farenda) 8052856900

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Warning: Copyright Protected.

Open chat
Hello
how can i help you.