देश

काशी : देव दीपावली पर 15 लाख दीपों से होगी जगमग काशी, लेजर शो में दिखेंगे अदभुत महादेव के रंग…

मुकुट किशोर शुक्ला
ब्यूरो चीफ
दैनिक महाराज गंज न्यूज़
लखनऊ

राम नगरी अयोध्या के बाद बाबा भोलेनाथ की नगरी काशी 19 नवंबर को देव दीपावली पर दीपों की रोशनी से जगमग होगी। इस बार 15 लाख दीप की रोशनी से काशी को जगमग करने की तैयारी है। पूरी दुनिया में विख्यात बाबा भोलेनाथ की नगरी काशी की देव-दीपावली को भव्य बनाने के लिए जिला प्रशासन और पर्यटन विभाग जुटा हुआ है। चेतसिंह घाट पर लेजर शो होगा और लेजर शो को भव्य आकार दिया जाएगा। इस बार 24 लेजर का प्रयोग हो रह।वहीं, मूविंग लेजर की संख्या 250 होगी।

लेजर शो में बाबा भोलेनाथ के श्लोकों और वैदिक मंत्रों को थीम को शामिल किया गया है।इसमें बाबा भोलेनाथ की विभिन्न भाव-भंगिमाएं प्रदर्शित होंगी और काशी की सांस्कृतिक झलक भी दिखाई देगी।इलेक्ट्रिक आतिशबाजी भी की होगी और इसकी जिम्मेदारी पर्यटन विभाग को मिली है।

आपको बता दें कि देव दीपावली पर न सिर्फ गंगा घाट बल्कि दूसरे छोर भी दीपों से जगमग होगा।देव दीपावली पर बाबा भोलेनाथ की नगरी काशी के 84 घाट लाखों दीपों से जगमग होंगे। 84 घाटों पर खूबसूरत सजावट से देवताओं के लिए मनाई जाने वाली देव दीपावली में लेजर शो भी आकर्षण का मुख्य केंद्र होगा।

पूरी दुनिया में विख्यात देव दीपावली को बाबा भोलेनाथ की नगरी काशी में भव्य तरीके से मनाया जाता है। इसे देखने के लिए देश के कोने-कोने से पर्यटकों की भीड़ उमड़ती है। बाबा भोलेनाथ की नगरी काशी की कला, संस्कृति और सभ्यता का नजारा युवा कलाकारों के सैंड आर्ट में देखने को मिलेगा।गोबर के दीपक से सजी गंगा घाटों की अलौकिक छवि और परंपरा भी दिखाई देगी।
अर्द्ध चंद्राकर घाटों की मनोरम छवि दीपों की जगमगाहट से नहा उठेगी। हर कण-कण में बाबा भोलेनाथ के होने का एहसास होगा। रामनगर के घाटों की तरफ से होने वाली इलेक्ट्रिक आतिशबाजी, राजा चेतसिंह घाट पर लेजर शो और एयर बैलून शो अलग भव्यता प्रदान करेंगे।मां गंगा की गोद में बहती धारा पर सजे हजारों नाव और बजड़ों से पर्यटकों को देव दीपावली की अनुपम छटा देखने को मिलेगी। 19 नवंबर की देव दीपावली की तैयारियां पूरी हो चुकी हैं।

आयोजन को चाक-चौबंद बनाने के लिए नगर निगम की ओर से घाटों की साफ-सफाई का कार्य भी खत्म हो गया है।पूरे घाटों को दीपक की रोशनी से जगमग करने के लिए स्वयंसेवी संगठनों, गंगा समितियों और अन्य स्वयंसेवकों की टीम भी गठित कर ली गई है।
देव दीपावली पर घाटों के अनुपम दृश्य का साक्षी बनने के लिए दुनिया से पर्यटक कोरोना की बाध्यता के बाद भी चार्टर प्लेन से बाबा भोलेनाथ की नगरी काशी आ रहे हैं।यह संख्या पहले के मुकाबले कम है। देशी पर्यटकों से होटलों में कमरे फुल हो गए हैं। सुरक्षा व्यवस्था को लेकर भी प्रशासन अलर्ट है।

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि देव दीपावली की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है।संबधित विभागों को जरूरी निर्देश दिए गए हैं। आयोजन को सफल बनाने के लिए स्वयंसेवी संस्थाओं को भी जिम्मेदारी दी गई है। सभी घाटों की ड्रोन से निगरानी रखी जाएगी।

Share this:

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!