देश

पूर्व सीएम अखिलेश यादव की बोल कृषि कानूनों की वापसी अहंकार की हार है ……

लखनऊ…

मुकुट किशोर शुक्ला
ब्यूरो चीफ
दैनिक महाराज गंज न्यूज़
लखनऊ

समाजवादी पार्टी का मानना है।कि आगामी महीनो मे पांच राज्यों के चुनाव को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कृषि कानूनों को वापस लेने का निर्णय लिया है।सपा ने कानून वापसी को इस रुप में देखा है। प्रेस कांफ्रेंस में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा काले कृषि कानूनों की वापसी अहंकार की हार है जनता की जीत है।भूमि अधिग्रहण के बाद यह काले कानून की वापसी लोकतंत्र की जीत है।किसानो के हित में कानून वापस नहीं लिया अपितु चुनाव के लिए वापस लिया गया।सरकार माफी मांगे और इस्तीफा दे।लखीमपुर मे किसानों को कुचलने वाला अभी भी मंत्री पद से हटाया नहीं गया। नोटबन्दी का निर्णय भी जनता को परेशान करने के लिए था। भाजपा की सरकार की नीयत साफ नहीं डीएपी खाद किसानों को नहीं मिल रहा। धान की कीमत किसानो को नहीं मिल रहा। सपा ने इन तीनो काले कृषि कानूनों के विरोधें व्यापक संघर्ष किया। मंडी खत्म करने की कोशिश पूंजीपतियों को लाभ देने के लिए। बुन्देलखण्ड में मंडिया संचालित करने के लिए सरकार ने कितना बजट दिया। सरकार बताए। महोबा मे किसानो ने तंगहाली मे आत्महत्या की। जब तक भाजपा का सफाया नहीं होगा ऐसे कानूनों का डर बना रहेगा।इस बार चुनाव में जनता इनका सफाया कर देगी।किसानो की मौत, अपमान में भाजपा और उसकी सरकार जिम्मेदार है। जनता इन्हे माफ नहीं करेगी।

Share this:

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!