IMG-20220126-WA0033
IMG-20220126-WA0032
IMG-20220126-WA0031
IMG-20220126-WA0030
IMG-20220125-WA0094
IMG-20220125-WA0095
IMG-20220125-WA0092
IMG-20220125-WA0102
IMG-20220125-WA0107
IMG-20220125-WA0119
IMG-20220125-WA0118
IMG-20220126-WA0154
IMG-20220126-WA0155
IMG-20220126-WA0156
IMG-20220126-WA0167
IMG-20220126-WA0199
IMG-20220126-WA0174
previous arrow
next arrow
महराजगंज

पुजारी और साध्वी के हत्याकांड का पर्दाफाश तीन नफर अभियुक्तो पुलिस टीम ने किया गिरफ्तार

दैनिक महाराज के न्यूज़/ महाराजगंज पब्लिक न्यूज़ वेद प्रकाश दुबे प्रदेश विज्ञापन प्रभारी

घंटी चोरी करते समय पुजारी और साध्वी के विरोध करने पर दोनो चोर हाथी की मुर्ती से मार कर हत्या कर दिये

महराजगंज जनपद के परसामलिक थाना क्षेत्र के ग्राम महदेईया के मन्दिर में रहने वाले साधू रामरतन व साध्वी कलावती के दोहरे हत्याकांड का पुलिस ने आखिरकार पर्दाफाश कर दिया है। 18 नवंबर को हुए इस डबल मर्डर की पहेली सुरझाने के लिये पुलिस की पांच टीमें काम कर रही थी। हत्याकांड का पर्दाफाश न होने के कारण पुलिस भी जनता के निशाने पर थी। पुलिस ने अब इस ब्लाइंड मर्डर केस का सफल अनावरण करते हुए घटना में शामिल 3 नफर अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है गिरफ्तार अभियुक्तों में संतोष विश्वकर्मा पुत्र जगरनाथ विश्वकर्मा, रोहित विश्वकर्मा पुत्र उमाशंकर विश्वकर्मा और मिट्ठू कौशल पुत्र केशरी प्रसाद है। तीनों अभियुक्त जनपद महराजगंज के ही बरगदही, फरेन्दा थाना और नौतनवा थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं। तीनों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा रहा है। इसमें से दो अभियुक्तों संतोष विश्वकर्मा और रोहित विश्वकर्मा को पहले गिरफ्तार किया गया दो अभियुक्त संतोष विश्वकर्मा और रोहित विश्वकर्मा मुख्य रूप से चोर है जो मंदिर में चोरी करने के लिये गये थे घंटी चोरी करते समय पुजारी और साध्वी द्वारा शोर मचाने पर इन्होंने उनकी हत्या कर दी। दोनों ने अपना जुर्म कबूल कर दिया है। इन अभियुक्तों ने मिट्ठू कौशल को मंदिर से चुराई गई घंटी बेची थी।
जानकारी के मुताबिक सर्विलांस सेल व इलेकट्रानिक उपकरणों की मदद से पुलिस ने मुखबिर की खास की सूचना पर घटना से शामिल अभियुक्त संतोष (सोनू) विश्वकर्मा पुत्र जगरनाथ विश्वकर्मा को हरदी डाली से गिरफ्तार किया गया। तलाशी पर उसके पास से एक मोबाइल कार्बन का बरामद हुआ यह मोबाइल हत्याकांड की शिकार साध्वी कलावती देवी का था जो गायब हुआ था अभियुक्त को पुलिस द्वारा हिरासत में लिया गया जिसके बाद इस हत्याकांड से पर्दा उठने लगा और उसके अन्य साथियों को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया।

Share this:

वेद प्रकाश दुबे

वेद प्रकाश दुबे प्रदेश विज्ञापन प्रभारी (लखनऊ) 7380436987

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!