IMG-20220126-WA0033
IMG-20220126-WA0032
IMG-20220126-WA0031
IMG-20220126-WA0030
IMG-20220125-WA0094
IMG-20220125-WA0095
IMG-20220125-WA0092
IMG-20220125-WA0102
IMG-20220125-WA0107
IMG-20220125-WA0119
IMG-20220125-WA0118
IMG-20220126-WA0154
IMG-20220126-WA0155
IMG-20220126-WA0156
IMG-20220126-WA0167
IMG-20220126-WA0199
IMG-20220126-WA0174
previous arrow
next arrow
देश

कलेक्ट्रेट सभागार में किसान संगोष्ठी की अध्यक्षता करते मुख्य विकास अधिकारी ।

आई.एस.पाठक

कलेक्ट्रेट सभागार में मुख्य विकास अधिकारी गौरव सिंह सोगरवाल की अध्यक्षता में किसान दिवस का आयोजन किया गया ।
किसान दिवस में सिचांई अधिशासी अभियन्ता प्रथम व द्वितीय द्वारा उपस्थित नही रहने तथा विभाग की कार्यवृत्ति नही मिलने के कारण स्पष्टीकरण काल किया गया । रोहिन नदी पर बन्धे की मरम्मत की शिकायत मिलने पर जबाबदेही हेतु पत्र जारी करने का निर्देश दिया गया। पशु पालन में गाय,भैस,बकरी,मुर्गी प्रोटली फार्म तथा मत्स्य पालन हेतु सी0बी0ओ0तथा मत्स्य अधिकारी को निर्देश दिया कि ब्लाक स्तर पर किसान सम्मान दिवस के पूर्व गोष्ठियों के माध्यम से पशुपालक व मत्स्य पालन कर्ता को के0सी0सी0से लोन अधिक से अधिक दिलाई जाय ,जिससे किसान पशुपालन व मत्स्य पालन के तहत स्वय को रोजगार के साथ स्वावलम्बी बन सके । जनपद में पशुपालन हेतु 1358 पशुपालको को के0सी0सी0लोन का लक्ष्य है परन्तु अभी लक्ष्य के सापेक्ष बहुत कम के0सी0सी0लोन हुए है । उन्होने यह भी निर्देश दिया कि स्वयं के रोजगार में पशुपालन व मत्स्य पालन का प्रचार प्रसार भी कराये । पशुपालन एंव मत्स्य पालन हेतु ब्लाक स्तर से सम्बन्धित कृषि विभाग के अधिकारी तथा मत्स्य अधिकारी व एल0डी0एम0 ब्लाक स्तर पर किसानो के साथ बैठक कर कार्ययोजना तैयार कर किसानो को के0सी0सी0प्रदान किये जाये । के0सी0सी0द्वारा पशुपालक व मतस्य पालन के सम्बन्ध में विधिक जानकारी दे जिससे किसान रूचि दिखा सके । पशु बीमा हेतु भी शासन को पत्र भेजने का निर्देश उप कृषि निदेशक को दिया । के0सी0सी0 स्वयं सहायता समूह को भी शामिल किये जाये जिससे पशुपालन व मत्स्य पालन करने वाली समूह को भी लाभ हो सके ।
मुख्य विकास अधिकारी द्वारा उपायुक्त सहकारिता निबन्धक सर्वेश सिंह तथा कृषि अधिकारी विरेन्द्र कुमार को निर्देश दिया कि प्राईवेट कृषि दुकानो तथा सहकारी समितियों से जैविक के साथ वर्मी कम्पोस्ट खाद भी की बिक्री की जाय । जिससे किसानों को सरल तरीके से मिल सके । उद्यान विभाग द्वारा आलू व प्याज बीज का वितरण तथा स्ट्राबेरी के पौधे की वितरण किया जाना बताया गया । श्री सोगरवाल द्वारा उपस्थित किसानो को सुझाव दिया कि बोरे की युरिया के बजाय नैनो यूरिया लिकीवेड का प्रयोग करें। यह नैनो यूरिया फसल पर ज्यादा सफल व और लागत भी कम है ।
बैठक में उप कृषि निदेशक रामशिष्ट, उपायुक्त सहकारिता निबन्धक सर्वेश सिंह,कृषि अधिकारी विरेन्द्र कुमार,सी0बी0ओ0 डा0अरविन्द गिरी,एल0डी0एम0 सुशील सरोज इफ्को मैनेजर राजेश मौर्य,कृषक श्यामबदन उपाध्याय,विभूति दास,विरेन्द्र चौरसिया,मूनिलाल,रामसवारे,राममिलन सहित भारी मात्रा में किसान उपस्थित रहे ।

Share this:

आई. एस. पाठक (प्रखर)

Chief Sub Editor Dainik Maharajganj News Mob: 9935231212

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!