देश

पूर्व विधायक मुन्ना सिंह ने जिला अधिकारी महोदय के माध्यम से महामहिम राज्यपाल जी के संबोधित ज्ञापन दिया

समाजवादी पार्टी के माननीय राष्ट्रीय एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव जी के
पर किसानों एवं श्रमिकों के हितों पर आघात पहुचाने वाले कृषि एवं श्रम कानूनों के विरोध में जिलाधिकारी महराजगंज के माध्यम से महामहिम राज्यपाल जी को संबोधित ज्ञापन दिया जिसमे किसानों के हितों की अनदेखी करने वाला जो कृषि विधेयक भारत सरकार लाई है उससे किसान अपनी जमीन का मालिक न रहकर मजदूर हो जाएगा। कृषि उत्पादन मंडी की समाप्ति और विधेयक में न्यूनतम समर्थन मूल्य मिलना सुनिश्चित न होने से किसान अब औने पौने दामो पर अपनी फसल बेचने को मजबूर होगा। गेहूं धान की फसलों को आवश्यक वस्तु अधिनियम से हटाए जाने से किसान को बड़े आढ़तियों एवं व्यापारिक घरानों की शर्तों पर अपनी फसल बेचना मजबूरी होगी। समाजवादी पार्टी किसानों की आवाज़ दबने नही देगी।
संसद से पारित श्रमिक कानून से श्रमिकों के हित बुरी तरह प्रभावित होंगे। अभी तक 100 कर्मचारियों वाले उधोगों को बिना सरकारी अनुमति छटनी का अधिकार नही था, नया कानून 300 कर्मचारियों वाले उधोगों को भी जब चाहे छटनी करने का अधिकार दे रहा है। इससे श्रमिकों में असुरक्षा की भावना बढ़ेगी और वे अपनी जायज मांग भी नही उठा सकेंगे। उधोगपति के वे बंधुआ मजदूर रह जाएंगे।
इस दौरान जिलाध्यक्ष अमीर हुसैन, पूर्व विधायक नौतनवा मुन्ना सिंह, पूर्व जिलाध्यक्ष राजेश यादव, पूर्व विधायक श्रीपत आजाद, विन्द्रेश कन्नौजिया, तासुवर हुसैन, दीपू यादव, रविन्द्र उर्फ राजा, पवन वर्मा, विजय बहादुर चौधरी, अमरजीत यादव , वृजेश गुप्ता के साथ अन्य कार्यकर्ता मौजूद थे।

नौतनवा से तहसील प्रभारी बेद प्रकाश दूबे की रिपोर्ट।

Share this:

ved prakash dubey

ved prakash dubey Zonal Chief (Goakhpur) 7380436987

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!