दैनिक महाराजगंज न्यूज़ पोर्टल आप सभी देशवाशियो से निवेदन करता है , कोरोना महामारी से बचने के लिए सोशल डिस्टेंस बनाये रखे और लॉकडाउन का पालन करें !
दैनिक महाराजगंज

भारतीय किसान यूनियन जिलाध्यक्ष महराजगंज संग दर्जनों लोग पहुँचे डीएम कार्यालय पाँच सूत्रीय मांगों को लेकर जिलाधिकारी को दिया ज्ञापन

महराजगंज
महराजगंज जनपद के पुरंदरपुर थाना क्षेत्र के मझार क्षेत्र की समस्याओं के समाधान के लिए जिलाधिकारी महराजगंज डॉ०उज्ज्वल कुमार को सौंपा ज्ञापन भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक गुट के पदाधिकारियों ने रोहिन नदी के बसमनियां तटबंधों की मरम्मत, फाटकदार पुलिया एवं ठोकर लगवाने की मांग को लेकर जिलाधिकारी महराजगंज डॉ०उज्ज्वल कुमार को ज्ञापन सौंपा। संगठन के जिलाध्यक्ष सुरेश चंद्र सहानी ने बताया कि न्याय पंचायत-रजापुर तीन तरफ जंगल और दो नदियों के बीच बसा हुआ है। अति पिछड़ा मझार क्षेत्र के नाम से जाना जाता है। वर्षा के बाढ़ में काफी नुकसान हुआ। बाढ़ से बंधे में जगह-जगह क्षतिग्रस्त हो चुके हैं। फाटकदार पुलिया एवं बंधे को ठीक किया जाय। दोनों तटबंधों की मरम्मत, कोईरिया टोला, कुड़िया एवं काशीपुर रजापुर में फाटकदार पुलिया लगवाई जाए। आराजी सुबाइन, बीरबल टोला, बसहवा, काशीपुर, रजापुर, सेमरहया, अमहवा टोले पर पक्के ठोकर का व्यवस्था हो। उन्होंने कहा कि बाढ़ से जिन किसानों की फसल बर्बाद हुई, उसका उचित मुआवजा दिया जाए। अगर समस्या का समाधान नहीं हुआ तो दो नवंबर से धरना दिया जाएगा।
कुछ किसानों का कहना है। कि मानसून के बढ़ने जल स्तर को झेल नही पाई बांध जिसका भरपाई मझार क्षेत्र के किसानों को भुगतना पड़ा। सैकड़ों एकड़ धान की फसल बर्बाद हो गए। रोहिन नदी के आस पास के बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के किसानों को मकान फसल की सुरक्षा के लिए जिला प्रशासन ने पहल करते हुए। तत्काल मरम्मत कार्य शुरू कराने के लिए पैसे जारी किए थे। मगर सरकारी धन तो खर्च होने के बाद भी रोहिन नदी के बांध पहले की तरह ही कमजोर बने हुए है। मरम्मत कार्य को ठेकेदार ने रैनकट और रैनहोल को भरकर उसके ऊपर से हल्की बलुई मिट्टी का पर्त चढ़ाकर अधिकारियों के आंख में धूल झोंकने का कार्य किया। अधिकारी व जेई से मिलकर कार्य का भुगतान भी करा लिया। निर्माण कार्य होने के बाद बन्धों को मजबूती तो मिली नही उल्टे पूरा धन भी खर्च हो गया। परन्तु बन्धे के ठोकर कटे पिटे हुए बदहाल अवस्था में पड़े हैं। जबकि नदी और बन्धे के बीच जगह-जगह बने ठोकर बाढ़ रोकने में बड़ी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है। ये ठोकर ही नदी के तेज होते जलधारा को धीरा करते है।
इस दौरान भारतीय किसान यूनियन जिलाध्यक्ष व जिला पंचायत सदस्य सुरेश चंद साहनी, रिजवान, ओमप्रकाश मौर्य, सुदर्शन, रामरतन, कपिलदेव, रामानंद, रामकेवल निषाद, जितेंद्र आर्य कवि जी, अब्दुल हसन, धनश्याम, रामकेश, रामतिलक, रविन्द्र जैन ( सामाजिक कार्यकर्ता) सहित दर्जनों लोग उपस्थित रहे।

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Open chat
Hello
how can i help you.