दैनिक महाराजगंज न्यूज़ पोर्टल आप सभी देशवाशियो से निवेदन करता है , कोरोना महामारी से बचने के लिए सोशल डिस्टेंस बनाये रखे और लॉकडाउन का पालन करें !
दैनिक महाराजगंज

भारतीय ब्राह्मण एकता परिषद तहसील इकाई ने राहत सामग्री वितरण कर सहारा बना

                                                   विनोद कुमार मिश्र अध्यक्ष व अजय कुमार तिवारी महामंत्री ने बढ़ चढ़ कर की परिवार में की मदत"

समस्त संगीत प्रेमियों व वृहत्तर ब्राह्मण समाज के समस्त दिब्य सुधीजनो को अत्यंत दुःख के साथ अवगत कराना है कि ग्राम सिरौली पोस्ट निचलौल जनपद महराजगंज के आदरणीय पण्डित मनोज कुमार पाण्डेय जी जिन्होंने अपने सुमधुर स्वर लहरियों से हम सभी को पिछले कुछ वर्षों से आनन्दित किया है उनकी 22वर्षीय बड़ी पुत्री कुमारी प्रीती पाण्डेय जिसकी आगामी 11दिसंबर को शादी थी वह पिछले 25अगस्त 2020 को छत से गिर गयी जिसके कारण उसकी रीढ़ की हड्डी टूट गयी फलस्वरूप कमर का निचला हिस्सा “पैरालाइज”हो गया ।। पैडलेगंज गोरखपुर स्थित राजवंशी हाॅस्पीटल में उसका आॅपरेशन कराया गया और लगभग डेढ़ महीने वहाँ पर इलाज चला जिसमें शादी के लिए भजन व कीर्तन के एक मात्र आय के श्रोत से पाई पाई जोड़कर रखा हुआ रूपया व कर्ज मिलाकर 650000(छःलाख पचास हजार)रूपये खर्च हो गये जबकि बिटिया के स्वास्थ्य में कोई परिवर्तन अभी तक नहीं हो पाया है ।। बताते चलें कि मनोज जी के पास 25डिसमिल खेत जिसमें धान की फसल लगी हुईं थी उसे भी इस दौरान बंधक रख दिया गया ।। अभी इस भयानक दुःख का सामना कर ही रहे थे मनोज जी कि पिछले 30 अक्तूबर को इनके माता जी का देहावसान हो गया ।।
इस हृदयविदारक दुःख की घड़ी में अखिल भारतीय ब्राह्मण एकता परिषद तहसील इकाई निचलौल के तहसील अध्यक्ष श्री विनोद कुमार मिश्र व महामंत्री श्री अजय कुमार तिवारी जी के कुशल नेतृत्व में तत्काल राहत के रूप में खाद्यान्न 150kg चावल, 150kg गेंहूँ व खाद्य सामग्री उनके घर जाकर के दिया गया व बड़े ही द्रवित मन से गोलोक गमन माता जी के लिए गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए सहानुभूति प्रकट किया गया ।।
सहयोग में विशेष आभार जिला महामंत्री अधिवक्ता पण्डित प्रवीन कुमार पाण्डेय जी, पण्डित सुधाँशु पाण्डेय जी, दिनेश जी, पण्डित विपिन कुमार पाठक जी को ज्ञापित करता हूँ ।।
अखिल भारतीय ब्राह्मण एकता परिषद तहसील निचलौल,आदरणीय पण्डित मनोज कुमार पाण्डेय जी के समस्त सुधीजनो, स्नेहीजनो व शुभचिन्तकों से सादर अनुरोध करता है कि आप आगे आयें और इस विशालकाय पर्वत जैसे दुःख की घड़ी में खुलकर आर्थिक,शारीरिक व मानसिक सहयोग प्रदान करें ताकि मनोज जी पुनः हमारे बीच में अपने सभी प्रकार के दुःख से निवृत्त होकर अपने शानदार आवाज से हम सभी को पहले के ही तरह आनन्दित कर सकें ।

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Open chat
Hello
how can i help you.