दैनिक महाराजगंज न्यूज़ पोर्टल आप सभी देशवाशियो से निवेदन करता है , कोरोना महामारी से बचने के लिए सोशल डिस्टेंस बनाये रखे और लॉकडाउन का पालन करें !
previous arrow
next arrow
Slider

जनपद महराजगंज के फरेंदा थाना अंतर्गत पोखरभिंडा गांव में एक नारी की दुर्दशा की जा रही है जिससे वह दर दर भटक रही है
बताया जा रहा है कि पोखरभिंडा की रहने वाली एक 22वर्षीय महिला नीलम चौहान पुत्री स्वर्गीय रामभन चौहान ऊर्फ राजमन
जहां यूपी सरकार कह रही है कि नारी सशक्तिकरण का पालन किया जा रहा है लेकिन पोखरभिंडा की रहनेवाली नीलम चौहान अपने हक के लिए दर दर भटक रही है बताया जा रहा है कि उसके पिता रामभन ऊर्फ राजमन कोईलरी में नौकरी कर रहे थे और वहाँ पर अपनी पत्नी गुड्डी देवी तथा चार पुत्रियों मीना ,सीमा, रीतु,तथा नीलम चौहान को लेकर रह रहे थे लेकिन कुछ ही दिन के बाद रामभवन ऊर्फ राजमन के पत्नी गुड्डी देवी का देहांत हो गया और उस समय नीलम की उम्र लगभग आठ वर्ष थी उसके बाद नीलम के पिता रामभन चौहान अपने तीन पुत्रियों की शादी कर दी और कुछ दीन के बाद उन्होंने दुसरी औरत लाये लेकिन कुछ ही दिनों के बाद रामभन का भी म्रृत्यु हो गया जब की नीलम उनकी सबसे छोटी पुत्री है और उसके पिता के सर्विस बुक पर भी नीलम का नाम है लेकिन जब वह गांव पोखरभिंडा मे आयी तो घर के लोग उसको यहां से भगाने लगे जब की वह अपनी पढ़ाई की सारी सर्टीफिकेट भी दीखाई उसके आधार कार्ड पर भी उसके पिता रामभन का नाम है लेकिन नीलम आज तक दर दर भटक रही है कुछ लोगो का कहना है की नीलम का नाम परिवार रजिस्टर में नहीं है जब की यहां के सारे कागजात पर और नागपुर के सारे कागजात पर उसके पिता का नाम है और जब वह अपना नाम परिवार रजिस्टर में दर्ज कराने के लिए विकास खंड फरेंदा के ए डी ओ पंचायत को दिया तो उसने भी मना कर दिया की तुम्हारा जन्म यहां पर नहीं हुआ है और पोखरभिंडा के ग्राम प्रधान से पुछने पर भी वही बात हो रही है की तुम यहां नहीं पैदा हूई हो उसके बाद नीलम ने एक प्रार्थना पत्र जिलाधिकारी महराजगंज को दिया लेकिन आज तक उसपर कोई कार्यवाही नहीं हुई और आज नीलम दर दर भटक रही है
जब की उसके सारे कागजात भी है

जयप्रकाश वर्मा
संवाददाता दैनिक महराजगंज न्यूज़

Share this:

Jai Prakash Verma

By Jai Prakash Verma

Riporter "Dainik Maharajganj News"

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Warning: Copyright Protected.

Open chat
Hello
how can i help you.