दैनिक महाराजगंज न्यूज़ पोर्टल आप सभी देशवाशियो से निवेदन करता है , कोरोना महामारी से बचने के लिए सोशल डिस्टेंस बनाये रखे और लॉकडाउन का पालन करें !
previous arrow
next arrow
Slider

महराजगंज। सरकार द्वारा स्कूलों में हुई छुट्टी का डर प्राइवेट स्कूलों के प्रबंधकों और अभिभावकों को सताने लगी है कहीं छुट्टियां आगे बढ़ती ना जाएं नही तो बच्चों का भविष्य खराब हो सकता है।महराजगंज स्कूल एसोसिएशन के बैनर तले जनपद के विभिन्न स्कूलों के प्रबंधक और छात्र/छात्राओं द्वारा जिलाधिकारी को सौप कर मुख्यमंत्री को एक ज्ञापन सौंपा है। जिनमे प्रबंधक और छात्र/ छात्राओं द्वारा मुख्य मंत्री से मांग की

गई है कि एक अप्रैल के बाद से विद्यालयों को सुचारू रूप संचालित करने के लिये दिशा निर्देश दे।कोरोना महामारी के वजह से पिछले साल बच्चों का भविष्य खराब हुई है साथ ही प्राइवेट स्कूलों के प्रबंधकों और अध्यापकों के ऊपर भी काफी गहरा प्रभाव पड़ा,कोरोना काल मे बहुत से स्कूल और संस्था से जुड़े लोग भुखमरी के कगार पर आ गये है। पिछले वर्ष को स्कूल संचालकों ने उपर वाले की नियति मान कर संतोष कर लिया।शिक्षा ही ऐसी विधा है जिससे हम अपने आने वाले भविष्य को सुरक्षित कर सकते हैं। किन्तु पिछले साल से अब तक बच्चे इससे वंचित हो रहे है। बच्चे पढ़ाई से दूर हो रहे है और उनके शिक्षा का क्षति हो रहा है जिन बच्चों के हाथ मे उनके भविष्य की डोर है उन बच्चों की शिक्षा ही नही हो पा रही है।
स्कूल एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि कोविड 19 के नियमों के साथ स्कूलों खोलने की अनुमति प्रदान करें । जिससे समाज में शिक्षा व रोजगार का सामंजस्य बना रहे।
इस मौके पर स्कूल एसोसिएशन के सचिव महेंद्र नंद जायसवाल,दुर्गेश कुमार सिंह,धर्मेंद्र यादव,इरफानुल्लाह खान,अंकुर गुप्ता, बालाजी जायसवाल,सुभाष, कमलेश शर्मा,रत्नेश विश्वकर्मा,सुमन गौड़,संजना,शाहिदा खान, अतहर अली आदि उपस्थित रहे।

Share this:

Pradeep Chaudhary

By Pradeep Chaudhary

Block Riporter partawal Bazar

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Warning: Copyright Protected.
Open chat
Hello
how can i help you.