दैनिक महाराजगंज न्यूज़ पोर्टल आप सभी देशवाशियो से निवेदन करता है , कोरोना महामारी से बचने के लिए सोशल डिस्टेंस बनाये रखे और लॉकडाउन का पालन करें !
IFRAME SYNC
दैनिक महाराजगंज

भारत नेपाल सीमा पर विभाग मौन , बेख़ौफ़ तस्करी जारी।

क्रासर:-विगत सप्ताह भौरहिया नाले में तीन की डूबने से हुई थी मौत।
– चंद रुपयों के खातिर बड़ी वाहनों की ट्यूब का नांव बनाकर उसी के सहारे तस्करी को अंजाम दे रहे हैं।

दैनिक महराजगंज न्यूज़
ठूठीबारी कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत से बेखौफ़ तस्करी जारी है। बाढ़ की पानी के सहारे जिस प्रकार से तस्करी को अंजाम दिया जा रहा है उसमें कोई भी अनहोनी हो सकती है। भरवलिया के भौरहिया नाले में विगत कुछ दिन पहले जिस प्रकार से डूबने से तीन लोगों की मौत हुई थी। उसके बावजूद प्रशासन संवेदनहीन बना हुआ है।
 सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ठूठीबारी कोतवाली क्षेत्र मरचहवा,राजाबारी,पड़ियाताल मन्दिर, चन्दन नदी का बंधा व भरवलिया गांव स्थित भौरहिया नाला इन दिनों तस्करी के लिए मुफीद बन चुका है। तस्कर अपनी जान की परवाह किए बगैर चंद रुपयों के खातिर बड़ी वाहनों की ट्यूब का नांव बनाकर उसी के सहारे तस्करी को अंजाम दे रहे हैं। तस्कर ट्यूब के नांव पर सवार हो नदी को पार कर नेपाल की सीमा में चले जाते और रात के अंधेरे से लेकर सुबह तक कनाडियन हरा मटर,मरीच छोहाड़ा, आदि मरचहवा, अराजी बैरिया व राजाबारी,पड़ियाताल,नौडियहवा,तुरकहिया , जमुई,गरौड़ा,नौवाबारी, आदि गांव के दर्जनों मकानों में डंप कर दिया करते। तस्कर मौका पाकर रात और सुबह में पिकअप व काली शीशा से लैस कारों के माध्यम से उसे सबया ढाला पंहुचा दिया करते। ठूठीबारी कोतवाली क्षेत्र में ऐसे दर्जनों बाहरी जनपद के कार मिलेंगे जिसके शीशे काली होती है और जब वह तस्करी के माल ले निकलती तो मजाल क्या कि कोई उसके सामने आ जाय। अब ऐसे में चर्चाओं का बाजार गर्म है कि इतने बेखौफ़ तस्करी को कैसे अंजाम दिया जा रहा है।
एक तस्कर मजदूर नाम न छापने के सर्त पर बताया कि हर पांच सौ मीटर पर हमारे मुखबिर बाइक व कार से खड़े होकर पल पल की जानकारी माल वाहक ड्राईवर को देते रहते हैं। जिससे तस्करों का माल सुरक्षा एजेंसियों के पकड़ से दूर हों जाता है।

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Open chat
Hello
how can i help you.