कोविड-19

बैंक कर्मियों में कोरोना पाजिटिव मिलने से डर रहे हैं स्कूल संचालक

महराजगंज । कोरोना माहमारी से बचाव के लिए उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद हाईस्कूल व इण्टरमीडिएट बोर्ड परीक्षा का शुल्क ट्रेजरी चालान के बजाए ऑनलाइन सिस्टम से जमा कराए जाने की ब्यवस्था बनाई जाए । ये बातें वित्तविहीन शिक्षक महांसभा के प्रदेश महासचिव आफताब आलम खां ने मीडिया के माध्यम से शासन / प्रशासन से मांग की है ।

आफताब आलम खां ने कहा कि उक्त मांग को यदि गम्भीरता से नहीं लिया गया तो शुल्क जमा करने के चक्कर मे बैंकों के सामने लाइन लगा कर खड़े शिक्षक , शिक्षणोत्तर कर्मचारी कोरोना के शिकार हो सकते हैं । पूरे पूर्वांचल में कोरोना महामारी पांव पसार चुका है । अधिकांश बैंकों के कर्मचारी भी कोरोना पाजिटिव पाए जा रहे हैं । ऐसे में बैंक जा कर बोर्ड परीक्षा का शुल्क जमा करना जोखिम भरा कार्य है । कोरोना महामारी को ध्यान में रखते हुए बोर्ड परीक्षा वर्ष 2020 – 21 में संचालित होने वाली हाईस्कूल , इण्टरमीडिएट बोर्ड परीक्षा शुल्क , कक्षा 9 व 11 का अग्रिम पंजीकरण शुल्क , ब्यक्तिगत परीक्षा का शुल्क ट्रेजरी चालान के माध्यम से विद्यालयों द्वारा न जमा करा कर नेटबैंकिंग से ऑनलाइन जमा करने की ब्यवस्था बनाई जाये.कक्षा 10 व 12की बोर्ड परीक्षा शुल्क व कक्षा 9 व 11की ऑनलाइन पंजीकरण शुल्क जमा करने की तिथि बढ़ाई जाये ।बोर्ड विद्यलयों को इस बात की छूट प्रदान करे कि वह अपने विद्यालय का शुल्क ट्रेजरी चालान के बजाए ऑनलाइन सिस्टम से बोर्ड के बैंक खाते में जमा कर दें ।

इब्राहिम अली की रिपोर्ट

Share this:

Abhishek kumar Tripathi

Founder & Editor Mobile no. 9451307239

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!