सतना

सैंया भए कोतवाल कहावत को चरितार्थ कर रहा है स्मार्ट केयर पैथोलॉजी

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार सिविल अस्पताल के सामने सोसाइटी के बगल में संचालित स्मार्ट केयर पैथोलॉजी इन दिनों दिन दूनी रात चौगुनी तरक्की पर है। ‌ वैसे तो नगर में कई पैथोलॉजी लैब हैं जो एक अर्से से यहां कार्यरत है। लेकिन कुछ दिनों पहले आरंभ हुए स्मार्ट केयर पैथोलॉजी में इन दिनों मरीजों का जमावड़ा चौंकाने वाला है। पैथोलॉजी से जुड़े एक चिकित्सक जो कि इसके घोषित संचालक भी हैं खुलेआम मरीजों को पर्चियां लिखकर स्मार्ट केयर पैथोलॉजी में जांच के लिए भेजते हैं जबकि इसके लिए कोई भी मरीज को बाध्य नहीं किया जा सकता। ‌ लेकिन चारों तरफ से पैसे कमाने का यह सबसे कारगर हथियार है और इसी हथियार का उपयोग कर रहे हैं सिविल अस्पताल में पदस्थ एक चिकित्सक पांडे जी जिनकी पर्चियां बकायादा उनकी हस्तलिखित लिपि में ग्राहक लेकर आते हैं और संबंधित पैथोलॉजी में जांच के लिए मजबूर होते हैं। स्वाभाविक है कि अगर और किसी लैब से मरीज जांच कराएगा तो वो रिपोर्ट असंवैधानिक मानी जाएगी और यही वजह है कि सरकारी तनख्वाह उठाने वाले चिकित्सक खुले बाजार में जमकर धंधा कर रहे हैं और मरीजों व परिजनों को शिक्षा देते हुए जेब गर्म कर रहे हैं।

Share this:

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!