लखनऊ

यूपी में सात लाख किसानों को लापरवाही से मिला PM किसान निधि का पैसा वसूलेगी सरकार …

लखनऊ . यूपी में पीएम नरेंद्र मोदी की किसान सम्मान निधि योजना में अधिकारियों की घोर लापरवाही सामने आई है . पीएम किसान सम्मान निधि के तहत उत्तर प्रदेश में ऐसे सात लाख से ज्यादा किसानों को धनराशि दी गई है जो कि योजना के हकदार नहीं हैं . मामले का खुलासा होने पर सरकार अब ऐसे किसानों से पीएम किसान सम्मान निधि की धनराशि वसूल करेगी . उत्तर प्रदेश में पीएम किसान सम्मान निधि में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है . प्रदेश में 7 लाख से ज्यादा ऐसे किसानों को योजना का फायदा हुआ है , जो कि पीएम किसान सम्मान निधि की योजना के अंतर्गत नहीं आते हैं . सरकार ने पीएम किसान सम्मान निधि के लाभार्थियों का सत्यापन कराया था . जिसमे साल 2020-21 के पांच प्रतिशत और 2021-22 के दस प्रतिशत निधि लाभार्थियों का सत्यापन कराया था . सत्यापन में यह चौंकाने वाला खुलासा हुआ हैपीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ लघु व सीमांत किसानों को दिया जाता है . लेकिन निधि का फायदा उन सात लाख से ज्यादा किसानों को हुआ जो कि लघु या सीमांत किसान नहीं हैं . सत्यापन में सामने आया है कि इन सात लाख किसानों में से 2,34,010 किसान आयकर अदा करते हैं . इतना ही नहीं 32,300 मृतक किसानों को भी निधि का फायदा पहुंचा है . 3,86,000 किसान ऐसे हैं जिन्होंने गलत खाते और फर्जी आधार पर योजना का लाभ लिया . वहीं 57,900 किसानों को अन्य कारणों से अपात्र माना गया . अब सरकार इन किसानों से निधि की धनराशि वसूल करेगी . इस मामले पर कृषि निदेशक विवेक सिंह का कहना है कि पीएम किसान सम्मान निधि के तहत जिन अपात्र किसानों को धनराशि दी गई है उनसे रिकवरी की जाएगी . सभी जिलों के उप कृषि निदेशकों को वसूली के निर्देश दे दिए गए हैं . वसूली के बाद आने वाली धनराशि को खाते में जमा किया जाएगा . आपको बता दे कि पीएम किसान सम्मान निधि के तहत लघु व सीमांत किसानों को हर चार महीने में दो हजार रुपये दिए जाते हैं
दैनिक महाराजगंज न्यूज़

Share this:

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!