WhatsApp Image 2022-08-17 at 6.06.27 AM
WhatsApp Image 2022-08-17 at 6.06.28 AM (1)
WhatsApp Image 2022-08-17 at 6.06.28 AM
WhatsApp Image 2022-08-17 at 6.06.29 AM
WhatsApp Image 2022-08-17 at 6.06.30 AM
WhatsApp Image 2022-08-17 at 6.06.31 AM
WhatsApp Image 2022-08-29 at 11.34.36 AM (1)
WhatsApp Image 2022-08-29 at 11.34.36 AM
WhatsApp Image 2022-08-29 at 11.34.35 AM
WhatsApp Image 2022-08-29 at 11.34.35 AM
IMG-20220819-WA0003
IMG-20220830-WA0000
लखनऊ

ट्रामा सेंटर में ७२ घंटे में नहीं मिला बेड मरीज की मौत

दैनिक महाराजगंज न्यूज़ मुकुट किशोर शुक्ला ब्यूरो चीफ लखनऊ

आज भी उत्तर प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं पर भले ही हर साल लाखों करोड़ों खर्च होते हो पर अभी भी मरीजों को बेड के लिए भटकना पड़ रहा है सरकार के लाख कवायद के बावजूद हॉस्पिटल इसमें असफल है कुव्यवस्था का एक बड़ा मामला आपको बता दें शनिवार को एक मरीज को veltinetar बेड ना मिलने से उसकी मौत हो गई परिवार जन विधायक से लेकर केंद्रीय मंत्री तक फोन कर डाले पर बेड ना मिल सका सीतापुर के नेवादाकला निवासी चंद्रभाल त्रिपाठी मंगलवार को अपने वाशरूम में फिसल कर गिर गए थे उनके नाती पंकज त्रिपाठी ने बताया कि मंगलवार लगभग ७ बजे उनको ट्रामा सेंटर लाया गया मगर बेड व वेल्टिनेटर खाली ना होने की वजह से उनको काफी दिक्कत का सामना करना पड़ा पंकज के अनुसार जब मंत्रीजी ने फोन किया तब मरीज को ऊपरी तल पर ले जाया गया मगर बेड ना खाली होने की वजह से वापस भेज दिया गया इस तरह ७२ घंटे बीत गए पर बेड ना मिल सका और उनकी सासे शनिवार को थम गई वहीं संदीप तिवारी प्रभारी ट्रामा सेंटर का कहना है कि केजेएमयू मे कुल छोटे बड़े मिलकर ९० veltinetar एक्टिव है खाली होने पर किसी भी मरीज को वापस नहीं किया जाता मरीज की जान बचाना हमारी प्राथमिकता है पर क्या यह कह देने से ट्रामा सेंटर के प्रभारी की जिम्मेदारियां खत्म हो जाती है यानि आज भी लोग अस्पताल पहुंचने के बाद व्यवस्था के अभाव में तड़प तड़प के जान गवा रहे हैं ऐसे मरीजों की मौत का जिम्मेदार कौन होगा

मुकुट किशोर शुक्ला
ब्यूरो चीफ
दैनिक महराज गंज न्यूज़
लखनऊ

Related Articles

Back to top button