WhatsApp Image 2022-08-17 at 6.06.27 AM
WhatsApp Image 2022-08-17 at 6.06.28 AM (1)
WhatsApp Image 2022-08-17 at 6.06.28 AM
WhatsApp Image 2022-08-17 at 6.06.29 AM
WhatsApp Image 2022-08-17 at 6.06.30 AM
WhatsApp Image 2022-08-17 at 6.06.31 AM
WhatsApp Image 2022-08-29 at 11.34.36 AM (1)
WhatsApp Image 2022-08-29 at 11.34.36 AM
WhatsApp Image 2022-08-29 at 11.34.35 AM
WhatsApp Image 2022-08-29 at 11.34.35 AM
IMG-20220819-WA0003
IMG-20220830-WA0000
महराजगंज

व्यापक पैमाने पर हो रही चीनी व अन्य खादयान की तस्करी जिम्मेदार मौन

दैनिक महाराजगंज न्यूज़/ महाराजगंज पब्लिक न्यूज़ वेद प्रकाश दुबे प्रदेश विज्ञापन प्रभारी

परसामलिक थाना क्षेत्र तथा सोनौली कोतवाली क्षेत्र का नाका बना तस्करों का सबसे सेफ जोन

महराजगंज सोनौली कोतवाली क्षेत्र का भगवानपुर नाका आए दिन चीनी की तस्करी को लेकर खूब सुर्खियां बटोर रहा है भगवानपुर नाके से स्थानीय पुलिस और सीमा पर तैनात सुरक्षा एजेंसियों के उदासीनता के कारण चीनी की तस्करी खुलेआम परवान चढ़ रहा है अच्छी सेटिंग के कारण जिम्मेदार अपनी चुप्पी साधे हुए मूकदर्शक बने हुए हैं जानकारी के मुताबिक तस्करी के लिए लाई जा रही चीनी भगवानपुर में स्थित एक किराने के दुकान पर रखा जाता है जहां से तस्करों द्वारा साइकिल व बाइक के माध्यम से बेखौफ नेपाल भेज दिया जाता है तमाम प्रयासों के बाद भी तस्कर पुलिस व सुरक्षा एजेंसियों के पकड़ से कोसों दूर हैं भगवानपुर में पुलिस चौकी व 22वीं एसएसबी वाहिनी का बीओपी भी मौजूद है बावजूद इसके चीनी व अन्य सामानों की तस्करी का नंगा नाच खुलेआम देखा जा सकता है। भारत-नेपाल की सीमा से सटा भगवानपुर एसएसबी कैंप से पश्चिम कुछ ही दूरी पर स्थित नाका तस्करों के लिए मुफीद साबित हो रहा है। विभागीय सांठ-गांठ से रोजाना उक्त नाकेे से लाखों रुपये लागत के चीनी व अन्य खादयान भारतीय सीमा से होकर नेपाल पहुंच रहा है। भारत में सस्ती दर पर खरीदकर तस्कर इन्हें कस्टम चोरी कर नेपाल क्षेत्र में पहुंचाकर भारी मुनाफा कमा रहे हैं इसके बावजूद स्थानीय कस्टम हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं। सूत्र बताते हैं कि सीमा पर तैनात सुरक्षा एजेंसियां, स्थानीय पुलिस तथा कस्टम विभाग के रहमो-करम से ही इनका यह धंधा फलफूल रहा है ऐसा नहीं है कि तस्करी के माल पकड़े नहीं जाते लेकिन इसके बावजूद भी हो रही तस्करी तस्करों के बुलंद हौसलों की तस्दीक करती है।

सेवतरी नाका चीनी व अन्य खादयान तस्करी का बना सेफ जोन

परसामलिक थाना क्षेत्र के ग्राम सभा सेवतरी हाथी पोस्ट के रास्ते आए दिन बड़े पैमाने पर चीनी सहित अन्य खादयान की तस्करी हो रही है ग्राम सभा सेवतरी में किराना दुकान के अलावा अवैध रूप से कुछ और घरों में चीनी, खादयान छुपा कर रखा जाता है जहां से प्रतिदिन कैरियर के माध्यम से दोपहर व शाम ढलते तथा रात में चीनी आसानी से बेखौफ नेपाल के इमलिहवा नाके पर पहुंचा दिया जाता है तस्कर सुरक्षा एजेंसियों के आंखों में धूल झोंककर चीनी की बोरी को काटन के बोरी से लपेटकर नेपाल भेज दे रहे हैं जिसमें स्थानीय पुलिस तस्करों को रोकने के बजाय मूकदर्शक बनी हुई है।

वेद प्रकाश दुबे

वेद प्रकाश दुबे प्रदेश विज्ञापन प्रभारी (लखनऊ) 7380436987

Related Articles

Back to top button